साबूदाना की खिचड़ी | Sabudana Khichdi recipe in Hindi

sabudane ki khichdi

साबूदाना की खिचड़ी – sabudana khichdi

साबूदाना खिचड़ी ( sabudana khichdi ) व्रत के समय बनायीं जाने वाली रेसिपी हैं जो घर में सबको पसंद आती है | बचपन में साबूदाना खिचड़ी (sabudana khichdi)खाने के लिए में और मेरा भाई खाने के समय तक व्रत करते थे ! साबूदाना  खिचड़ी खाने में बड़ी स्वादिष्ट होती है और घर में सबको पसंद आती है | यह बनाने में काफी आसान है | कुछ दिन पहले मेरे घर पर नवरात्री के समय गेस्ट आए थे तब मेने खाने के मेनू में सिंघाड़े के पराठे , व्रत का रायता , मखाने की खीर, साबूदाने की टिक्की और साबूदाने की खिचड़ी  बनायीं थी| सबको खाना पसंद आया था | उन्हें ये खिचड़ी बहुत अच्छी लगी , क्यूंकि न तो वो चिप चिपी थी न कड़क |

साबूदाना खिचड़ी (Sabudana ki khichdi)

साबूदाना खिचड़ी की ये रेसिपी महाराष्ट्र और गुजरात से है | यह साबूदाना बिलकुल भी चिप चिपा (sticky) नहीं बनता और सॉफ्ट रहता है | आप इसे टिफ़िन में भी ले जा सकते है ,इसे जरूरी नहीं है की गरम गरम ही खाया जाये क्यूंकि इसका स्वाद ठंडा होने के बाद भी अच्छा ही लगता है |

बाजार में तीन साइज के साबूदाने मिलते हैं -

  • छोटा साबूदाना (बारीक़ / small size sabudana)- ये साबूदाना बोहोत जल्दी भीग जाता है | ये २-३ घंटे में भीग जाता है पर इसकी खिचड़ी में वो मज़ा नहीं जो मध्यम साइज के साबूदाने में हैं | ये साबूदाना वडा  या साबूदाना टिक्की बनाने के किए सही होता है , ये बड़ी आसानी से टिक्की या वादे के सामग्री के साथ स्मैश हो जाता है |
  • मध्यम आकर का साबूदाना – ये साबूदाना , sabudana khichadi बनाने के लिए perfect है | इसे भीगने में १० -१२ घंटे लगते हैं , बनाने के बाद यह साबूदाने सा खिला-खिला सा बनता है |sk6
  • बड़े आकर वाला साबूदाना – ये साबूदाना मेने एक ही बार लाया  था पर वो सही से  भीगा ही नहीं | मेरी फ्रेंड के घर मेने ये साबूदाना खाया था ,उसने इसे कुकर में बनाया था | ये पानी डाल कर उसने पकाया था पर वह खिचड़ी चिप चिपी सी थी और उसे सिर्फ गरम ही खाया जा सकता है | | में ये साबूदाना इस्तेमाल नहीं करती |

Perfect साबूदाना बनाने के tipssabudana khichdi recipe in hindi

  • साबूदाना भिगाना(soak) साबूदाना बनाने में मुख्य काम है , साबूदाना रात भर या ८-१० घंटे  भीगना बोहोत जरूरी है ,तभी ये सॉफ्ट होता है | जब ये भीग जायेगा तब इसके दाने को दो ऊँगली में प्रेस करके देखे ये बिना किसी effort के mash हो जायेगा |
  • साबूदाना को हलके हात से धोना चाहिए , इसे मसल कर धोने से ये ख़राब हो जाता है और फिर ये बनाने के बाद चिप चिपा बनता हैं |
  • साबूदाना भिगाते वक़्त इसमें पानी का प्रमाण (ratio) भी सही हिसाब से डालना जरूरी है | १ कटोरी साबूदाने में ३/४ कप पानी पर्याप्त होता हैं| |
  • साबूदाने में मूंगफली साबुत न डालकर इसे दरदरा कूट कर डालें  , यह साबूदाने का स्वाद बढ़ाता है , इसमें तेल भी कम डालना पड़ता है और साथ ही साथ साबूदाना खिला खिला सा बनता है | मूंगफली पाउडर साबूदाने का अतिरक पानी सोख  लेती है और मूंगफली में जो तेल होता है वो साबूदाने पर पहले से ही एक परत बना देता है जिससे साबूदाना चिप चिपा नहीं बनता |
  • साबूदाना बहुत बार खरीदते वक़्त ही ख़राब मिलता है | ये साबूदाना या तो गलता ही नहीं है या धोते – धोते ही इसकी पाउडर हो जाती है | साबूदाना खरीदते वक़्त अच्छी दूकान से खरीदना बोहोत जरूरी है | अगर फिर भी साबूदाना अगर ख़राब निकल जाता है तो आप इसका दूसरी चीज़े बनाने में इस्तेमाल कर सकते हैं | जैसे अगर साबूदाना धोते वक़्त ही पाउडर हो रहा है तो आप इसको भिगोकर इसकी साबूदाना टिक्की बन लें क्यूंकि ऐसा साबूदाना बोहोत ही चिप चिपा बनेगा | साबूदाना खूब पानी में दाल कर भी गल नहीं रहा हो तो आप इसकी साबूदाना खीर बना सकते हैं | खीर बनाते boil करने से साबूदाना आराम से पक जाता हैं | खैर ये कभी कभार ही होता है!
Also check- Sabudane ki kheer  

साबूदाना से बनी रेसिपीज (Sabudana recipes) स्वादिष्ट तो है ही पर साथ ही साथ साबूदाने के काफी सारे फायदे (fayde / health benefits) भी है |
मांसपेशियों के विकास ( muscle growth) के लिए बोहोत फायदेमंद है क्यूंकि इसमें प्रोटीन(protein) प्रमाण ज्यादा है | Protein का प्रमाण ज्यादा होने के कारन ये शरीर चिकित्सा में सहारा देता है |
हड्डी का स्वास्थ्य (bone health)- साबूदाने में कैल्शियम , iron और vit k का प्रमाण भी बोहोत ज्यादा है ,इससे bones strong होते हैं |
इसके अलावा ये वजन बढ़ाने और energy देने वाला food हैं |

कैसे बनाए साबूदाना खिचड़ी हेल्थी ? (How to make Sabudane ki Khichdi healthy?)sk2

  • साबूदाना अगर आप व्रत के समय खा रहे हो तो आप इसमें व्रत में खाने वाली सब्जियां जैसे गाजर,खीरा ,हरा धनिया डालकर खाएं | इससे आपको भारीपन नहीं लगेगा |
  • साबूदाना के साथ रायता दही या सलाद अवश्य ले ।
  • साबूदाने को कम से कम तेल या घी में बनाए। मूंगफली में काफी मात्रा में तेल होता है इसलिए तेल का प्रयोग कम कीजिये ।
  • आलू को माइक्रोवेव में पकाए या उबाल ले इससे तेल भी कम लगेगा और साबूदाने खिचड़ी की कैलोरीज को भी आप घटा सकते हैं । माइक्रोवेव (microwave) में पके आलू बहुत स्वादिष्ट लगते है ।
  • आप चाहे तो साबूदाना खिचड़ी को और कम कैलोरीज की बनाने के लिए इसे माइक्रोवेव में पका सकते हैं । माइक्रोवेव वाले साबूदाने की खिचड़ी की रेसिपी के लिए ये लिंक चेक करे (Sabudana khichadi recipe in microwave)

मैंने साबूदाना की खिचड़ी  की यह रेसिपी क्रमशः फोटो द्वारा बतायी है |आपको यह रेसिपी कैसी लगी या आप इसे कैसे बनाना पसंद करते है यह सारी बातें आप मुझे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स (comment box) में जरूर लिखिए |

साबूदाना खिचड़ी बनाने की सामग्री (Ingredients to make Sabudane ki khichdi)

  • २ कप साबूदाना(sabudana)
  • १ १/२ पानी (water)
  • १/२ कप भुनी हुई(roasted) मूंगफली (peanuts)
  • २ मध्यम आकर के आलू (potatoes)
  • २ टीस्पून नमक (salt)
  • १ टीस्पून चीनी (optional)
  • १ निम्बू का रस (lemon juice)
  • ४- ५ हरी मिर्च (green chili)
  • १ टीस्पून जीरा (cumin)
  • १ टीस्पून अजवाइन (carom seeds)
  • २ टेबलस्पून घी / मूंगफली का तेल / रिफाइंड तेल

साबूदाना की खिचड़ी बनाने की विधि ( step by step method to make sabudana khichdi in hindi)

  1. साबूदाना २-३ बार साफ़ पानी से धो लें , साबूदाना मसल कर न धोए इसे  हलके हात से धोना है । इसमें १ १/२ कप पानी डालकर भिगो दे ।sk5
  2. इसे रात भर या ८-१० घंटे भीगने दीजिये ।sk10
  3. भीगने के बाद साबूदाना एकदम मुलायम और हर दाना अलग -अलग हो जाता है, अगर आप किसी भी दाने को दो ऊँगली में दबाए तो वो बिना किसी प्रयास के mash हो जायेगा|sk4
  4. मूंगफली अगर भुनी नहीं होगी तो उसे भूनकर छिलका हटाकर, इसे कूट लीजिए या मिक्सर में दरदरी पाउडर बना लीजिए|sk8sk9
  5. आलू को उबाल कर उसके छोटे टुकड़े कर लीजिए । मेने आलू को उबाल ने के बजाय काटकर उसमें हल्का सा नमक और १/२ चम्मच तेल डालकर उसे माइक्रोवेव सेफ बाउल में डालकर ५ मिनट तक पका लिया । माइक्रोवेव में पके हुए आलू का स्वाद बोहोत अच्छा लगता है ।sk11
  6. भीगे हुए साबूदाने में उबले हुए आलू या microwave में पके आलू के टुकड़े , नमक, चीनी , भुनी मूंगफली दरदरा पाउडर और निम्बू का रस डाल दे|sk12sk13sk14
  7. इसे अच्छी तरह से मिलाकर रख दे |sk15
  8. कढ़ाई में तेल या घी गरम करने रखे|
  9. इसमें जीरा अजवाइन डालें , जीरा अजवाइन हलकी भून लीजिए ।sk16
  10. अब इसमें हरी मिर्च डालिए|sk17
  11. हरी मिर्च जैसी ही तल जाये इसमें साबूदाने को डाल दीजिये |sk18
  12. इसे तेज गैस पर सही से मिक्स कर ढक्कन लगा दीजिये ।
  13. गैस धीमी कर इसे लगभग दस मिनट धीमी गैस पर पकने दे , हर २-३ मिनट बाद इसे चलाते रहे नहीं तो ये निचे से पक जाएगी और ऊपर के दाने कच्चे ही रह जायेंगे ।sk19
  14. साबूदाना खिचड़ी को धनिया के पत्ते डालकर ,दही ,रायता या सलाद के साथ परोसे ।

    sabudane ki khichdi

    sabudana ki khichdi

 

One Comment

  1. Pingback: नारियल की चटनी | Nariyal ki Chatni in hindi | Coconut Chutney Recipe inhindi | Healthy Veg Recipes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>